-->

नयी शिक्षा निति - New Education Policy 2020

 New Education Policy 2020 - नयी शिक्षा निति को भारत सरकार द्वारा लागू किया गया और इस सिस्टम का मुख्य उद्देश्य था - भारतीय शिक्षा व्वयस्था और शिक्षा स्तर को मजबूत कैसे करे। जब ये निति लागू की गयी तो उस समय इसके अध्यक्ष केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल जी थे। इस निति के अंतर्गत सभी प्रकार के शिक्षण प्रणाली को शामिल किया गया है। जो इस निति में शामिल नहीं है वो है - Law और Medical  Education  

  • समिति - कतूरिरंगन समिति 
  • समिति का गठन - जून २०१७ में 
  • कब मंजूरी मिली - 29 जुलाई 2020 को इस शिक्षा निति को केन्द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा मंजूरी मिल गयी।  
नयी शिक्षा नीति 


राष्ट्रिय शिक्षा नीति 2020 के उद्देश्य 

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के मुख्य उद्देश्य इस प्रकार है -

  1. शिक्षा की आसानी से उपलब्धता, वहनीय शिक्षा, समान शिक्षा की अधिकार और शिक्षा के उत्तरदायित्व जैसे मुद्दों पर विशेष रूप से ध्यान देना है। 
  2. छात्रो में रचनात्मक सोच , नवाचार की भावना और तार्किक निर्णय की भावना को प्रोत्साहित करना 
  3. भारत के विभिन्न भाषाओ की समझ, विकलांग छात्र के लिए विशेष रूप से शिक्षा को सुगम बनाने के तकनिकी पर बढ़ावा देना 
  4. विज्ञानं , टेक्नोलॉजी और इंडस्ट्री में कुशल लोगो की कमी दूर करते हुए देश को सुपर पॉवर के रूप में स्थापित करना 

नयी शिक्षा नीति की आधारभूत सरंचना 

नयी शिक्षा नीति को इस समय 10 + 2  के मॉडल को हटाकर शैक्षिक पाठ्यक्रम को 5+3+3+4 के प्रणाली के आधार पर बांटी गयी है। 

नया फॉर्मेट

चरण

उम्र

कक्षा स्तर

5

प्रारंभिक स्तर

3 से 6 उम्र तक

आंगनबाड़ी

प्रारंभिक स्तर

6 से 8 वर्ष की उम्र तक

Pre-Primari

3

प्राथमिक शिक्षा

8 से 11 वर्ष की उम्र तक

कक्षा 3 से कक्षा 5 तक

3

माध्यम स्तर

11 से 14 वर्ष की उम्र तक

कक्षा 6 से कक्षा 8 तक

4

अंतिम स्तर

14 से 18 वर्ष की उम्र तक

कक्षा 9 से कक्षा 12 तक

नयी शिक्षा नीति के फायदे 

  1. भारतीय जीडीपी का 6% हिस्सा NEP पर खर्च होगा। 
  2. नयी शिक्षा नीति में भारत के सभी प्राचीन भाषाओ पढ़ने का विकल्प और साथ में विदेश भाषाओ जैसे अंग्रेजी, फ्रेंच आदि भाषाओ को पढ़ने का विकल्प। 
  3. हर छात्र को कम से कम 3 भाषाओं को ज्ञान होगा। 
  4. MPHILL डिग्री ख़त्म। 
  5. छात्रो के पढ़ाई के साथ - साथ उनका प्रशिक्षण में विशेष रूप से ध्यान। 
  6. New Policy 2020 के तहत अगर कोई छात्र अपने वर्तमान समय के कोर्स को छोड़कर , किसी दुसरे कोर्स को लेना चाह रहा है तो वो एक निश्चित समय के बाद दुसरे कोर्स में प्रवेश ले सकता है। 

New Policy 2020 Key 

  • शिक्षको के साथ - साथ अभिभावकों पर जो छात्रों के प्रति जागरूक होने के लिए। 
  • छात्र और शिक्षण गन में वैचारिक समझ पर जोर होगा। 
  • प्रत्येक छात्रो को उनके क्षमता के अनुसार बढ़ावा देना होगा। 

उच्च शिक्षा हायर एजुकेशन 

यदि कोई छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त करता है तो वो अपने सभी वर्षो के प्रमाण पत्र पाने का अधिकार रहेगा। उसको डिग्री इस निम्न अनुसार मिलेगी। 

  • एक वर्ष की पढ़ाई पर - सर्टिफिकेट 
  • दुसरे वर्ष के पढ़ाई पर - डिप्लोमा 
  • तीसरे या चौथे वर्ष की पढ़ाई पूरी करने पर - डिग्री