आइये पेड़ लगाए - इस शीर्षक को पढ़कर आप के मन में कोई ना कोई विचार जरूर उठा होगा , होगा भी क्यों नहीं क्योकि इस ब्लॉग पर इन्टरनेट से जुडी सभी जानकारिया दी जाती है और आज इन सभी से हटकर कुछ अलग ही .. नहीं ऐसा नहीं है आज हमने ये सोचकर कुछ जानकारी देने का प्रयास किया है की हमारी धरती को कैसे बचाया जाये , मैं ऐसा क्यों कह रहा हूँ ये आपको आगे पता चलेगा |



धरती वह जगह है जिस पर हम सभी रहते है इसी पे अपने दैनिक जीवन की क्रियाये करते है | ऐसे में हम सभी को इसका ख्याल रखना चाहिए | इस बात मैंने कितना आसानी से कह दिया की ख्याल रखना चाहिए , लेकिन हो रहा ठीक इसके विपरीत जहा इस स्वर्ग रुपी धरती को ख्याल रखने की बात है वही हम ने इसको अप्राकृतिक तरीके से इस के रखरखाव में लापरवाही बरती है | इसके सिस्टम को हमने बदलकर रख दिया है | हम जो - जो कार्य करते है उन्हें अमानवीय और अप्राकृतिक तरीके से कर रहे है |

हम क्या गलत कर रहे है ?

पेड़ - पौधों को अंधाधुंध  काट रहे है , पहले गावो में लोग अपने पूरी ज़िन्दगी में कम से कम 1 पेड़ जरूर लगाते थे वो अब इसको भूल गए है , गाव के लोग शहरी जीवन से प्रेरित होकर अपने गाव को भी शहरी बनाने में लगे है | पहले लोग घर के बाहर एक पेड़ लगते थे छाया के लिए अब जैसे लगता है इसका रिवाज ही खत्म हो गया है | लोग कच्चे मकान की जगह टिकाऊ पक्के मकान बना रहे है , बहुत अच्छी बात है लेकिन अपने रिवाजो को ख़त्म करना ये बेईमानी है |
यहाँ पर शहरी लोगो को के लिए अलग बात है वहा पर इतनी घनी बस्ती होती है की लोगो को यदि फुरसत से रहने के लिए घर मिल जाये तो बड़ी बात है | यहाँ अलग बात है  की गावो की अपेक्षा यहाँ पर बहुत अच्छी सुविधाए मिल जाती है लेकिन इन्हें भी चाहिए की हमारे हित और धरती के पर्यावरण को ध्यान में रखकर चीजों का उपयोग करे |

हम वनों को बहुत जल्दी काटकर ख़त्म कर रहे है जिससे उसमे रहने वाले जिव - जन्तु ख़त्म होते जा रहे है | हम जब कोई घर बनाते है तो अपने स्वार्थ के लिए उस जमीं में उगने वाले सभी पेड़ - पौधों को ख़त्म कर देते है , यदि जरूरी से उसको काटना पड़ता है तो उसके जगह पर कोई नया पेड़ नहीं लगते है जिससे पर्यावरण की हानि होती रहती है |

हम फ्रिज का इस्तेमाल बहुत तेजी से कर रहे है साथ ही A.C. , पंखा कूलर आदि का इस्तेमाल बहुत ज्यादा कर रहे है  , लेकिन आप को पता है की फ्रिज और ac से निकलने वाली गैस बहुत हानिकारक होती है ये गैस ऊपर जाकर ओजोन परत को ख़त्म कर देती है | आपको बताते चले की ओजोन परत को हमारी धरती की छतरी कहा जाता है क्योकि ये सूर्य से आने वाली हानिकारक किरणों को सोख लेती है और हमें इनसे रक्षा करती है , लेकिन हम लोग इसको नष्ट करने पर ही तुले हुए है |

इसी गलती में एक और बात है की हम बेहिसाब बच्चे पैदा कर रहे है जिससे जनसँख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है जो हमारी आने वाली सुख सुविधा के लिए घातक सिद्ध हो जाएगी | आपको तो पता ही होगा की जनसँख्या के मामले में चीन के बाद भारत का ही नंबर आता है | भारत में जनसँख्या इतनी तेजी से बढ़ रही है की आने वाले 2050 तक चीन से आगे हो जायेगे | जो एक हर भारतीय के लिए चिंता का विषय है , लेकिन यहाँ पर कोई भारतीय नहीं मानेगा क्योकि लोग बच्चो को भगवान् की देन मानते है और वो ये जानते है की भगवान् ने पैदा किया है तो उसको वही खिलायेगा | ऐसा बिलकुल नहीं है जब तक आप कुछ नहीं करोगे तब तक कुछ नहीं होने वाला |

हमें क्या करना चाहिए 

1. सबसे पहली बात अपनी जनसँख्या कम करने के बारे में सोचना चाहिए , हम दो हमारे दो वाली बात को अमल करना चाहिए क्योकि जितने हम कम लोग होंगे हमारी जरूरते उतनी ही कम होगी | जब जरूरते कम होगी तो उर्जा का इस्तेमाल भी कम होगा जिससे हमारी धरती पर दबाव कम होगा और इसका शोषण कम करेंगे |
यहाँ पर आप जानते है की हम अपनी सारी जरूरते इसी धरती से ही पूरा करते है कही और किसी ग्रह से नहीं | ना ही ये संभव है क्योकि इसी धरती पर ही जीवन है , सिर्फ इसी पर . तो ऐसे में जनसँख्या कम होगी तो सभी चीज़े भी अपने - अपने जगह पर सही ढंग से रहेगी .
जनसँख्या से हानि की बात करे तो , मान लीजिये आपके पास रहने के लिए एक मकान है और उसमे एक फॅमिली आराम से गुजारा करती है और उस परिवार में 4 लोग रहते है , ऐसे में आप उसी में 4 और लोगो को बुला लाये तो उस घर की स्थिति क्या होगी , जाहिर सी बात है की वो घर जो पहले सुचारू रूप से चल रहा था वो बिगड़ जायेगा | ऐसी स्थिति में भगवान् नहीं आयेंगे देखने की वो चार लोग कहा सोयेंगे , रहेंगे क्या खायेंगे आदि आदि | सभी चीजों का जुगाड़ आपको इसी धरती से ही करना होगा | मेरे विचार में जितने कम लोग होंगे उतने ही सुखी होंगे |

2. दूसरी बात की हम सभी को ज्यादा ज्यादा पेड़ लगाने की कोशिश करनी चाहिए , जहा भी पेड़ लगाने का मौका मिले वह पर पौधरोपण करना चाहिए , पेड़ - पौधे हमारे पुरे आवरण को शुद्ध करते है ,हमे अपने पूरी ज़िन्दगी में कम से एक पेड़ लगाकर उसकी देखभाल करनी चाहिए | पेड़ जो की हमारे पूरी ज़िन्दगी भर किसी ना किसी रूप में फायदा ही पहुचाते है | वो बच्चे और पेड़ वाली कहानी जरूर पढ़ी होगी , अगर नहीं पढ़ा तो आप पढ़ लीजिये इससे आपको पेड़ की महत्ता के बारे में जान जायेंगे

3. अब हमे ac और फ्रिज का इस्तेमाल करना कम कर देना चाहिए क्योकि इसका जो परिणाम होगा वो बहुत ही घातक होगा , जिसे निपटने के लिए ना आप कुछ कर पाएंगे ना वैज्ञानिक , ओजोन को बचाने के लिए हमे CFC गैस के उत्सर्जन को कम करना ही होगा नहीं हमारे सर के ऊपर छत्री नहीं रहेगी और हम जल्दी ही काल कवलित हो जायेंगे |

निष्कर्ष 

हमें चाहिए की हम ज्यादा ज्यादा से पेड़ पौधे लगाये और इनकी रक्षा करे | क्योकि ये रहेंगे तो हम रहेंगे नहीं हम सभी समाप्त हो जायेंगे | जीव - जन्तुओ को ना मारे इनकी रक्षा करे और सबसे बड़ी बात की पानी को बचाए क्योकि आप सभी जानते है की जल ही जीवन है |