Personal Loan EMI (या Equal Monthly Installments) जो कि Personal Loan EMI Calculator द्वारा

Calculate किया जाता है। यह आपके द्वारा लिए गए Loan के लिए SBI को भुगतान की गई धनराशि होती

है। यह Banks को आपके द्वारा Loan की Repayment करने के लिए सुविधाजनक सुविधा होती है।

हर महीने, आप अपने EMI को भर सकते हैं ये सुविधा ग्राहकों के आराम के लिए होती है क्योंकि कुछ ग्राहक

एक साथ Loan की पूरी Amount Repay नही कर सकते हैं।वो हर महीने EMI के रूप में अपना Loan के कुछ

Parts का Repayment कर सकते हैं, जो कि आरामदायक होता है.



अगर हम भारत के सबसे अग्रणी Bank की बात करते हैं तो State Bank Of India, Loans के साथ सस्ती

और सुविधाजनक Personal Loan EMI प्रदान करता है। ये EMI कम से कम है जो कि 48 महीनों के लिए

एक लाख रुपये पर आपको Monthly 2658 रुपये का भुगतान करना होता है। इसके साथ ही SBI Personal

Loans पर सिर्फ 12.50% की Interest Rates लगाता है।

आज की हमारी इस Post में हम आपको बताएंगे कि SBI Personal Loan EMI Calculator का उपयोग

करके आप EMI के लिए Right Amount कैसे Decide कर सकते हैं।

Tips To Decide Right Amount Of EMI After
Using Personal Loan EMI Calculator


Calculate Your Needs

यह महत्वपूर्ण है कि Loan के लिए Banks से संपर्क करने से पहले, आपको उधार लेने के लिए आवश्यक

Loan Amount का अनुमान लगाने की आवश्यकता है। याद रखें Personal Loans एक Unsecured है जो

High Interest Rates पर आ सकता है और इसलिए, आपकी Loan Amount को Minimum Needs तक




सीमित करना उचित है। इसके अलावा, आप जिस EMI पर Repayment कर सकते हैं, उसके Base पर Loan

के Lowest Tenure का चयन करने की कोशिश करें.




Review Your Personal Loan EMI Calculator Before Applying

आपकी Personal Loan Eligibility आपकी Monthly Income और अन्य Bases के आधार पर आपकी

Repayment Capacity का Calculation करने के लिए आपको कोई Personal Loan EMI Calculator का

उपयोग अवश्य करना चाहिए, बिना Calculation Loan के लिए Apply करना आपको बाद में भारी पड़

सकता है, जो की आपको डिफॉल्टर बना देगा ।




Decide Your Purpose Of Loan To Pay EMI

SBI Personal Loan, Emergency Cases के लिए चिकित्सा उपचार के लिए, Addittional Funds Needs

के लिए, विवाह व्यय और अन्य व्यक्तिगत वित्त आवश्यकताओं का भुगतान करने के लिए लिया जाता है।

तो लेने से पहले यह सुनिश्चित कर ले कि आप इसके लिए कितना EMI Monthly Pay कर सकते हैं।




FAQs




Personal Loans लेने से पहले EMI Calculation करना क्यों जरूरी

होता है?

Personal Loans लेने से पहले Personal Loan EMI Calculator को उपयोग करने की सलाह दी जाती है

क्योंकि यह आपकी EMI को निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आपके Personal Loan की

EMI Calculation करने के कई लाभ हैं जैसा कि नीचे हम आपको बताने जा रहे हैं-

यदि EMI आपके मासिक बजट से अधिक है, तो आपके पास Lower Loan Amount ही सही है जो आपके

मासिक बजट में फिट बैठता है और EMI को आसानी से Repayable बनाता है।




यदि आप पहले से ही EMI भर रहे हैं तो आपको प्रत्येक महीने का Repayment अब भी करना होगा, इसलिए

फिर आप Personal Loan EMI Calculator का उपयोग करके अपने खर्च की योजना बना सकते हैं।

EMI Amount के आधार पर, आप Surplus Amount होने पर अपने Personal Loan की राशि का प्रीपेमेंट

करने का विकल्प चुन सकते हैं, जो कि फ़ायदेमंद और Flexible होता है।इससे आप चाहे तो अपने Loan को

आराम से Clear कर सकते हैं बिना किसी प्रकार के अत्यधिक बोझ के!




Personal Loan का Repayment कैसे होता है?


HDFC Personal Loan का Repayment ग्राहक के बैंक खाते के माध्यम से EMI (समान मासिक किस्त) के

रूप में होता है। Customers को कुछ Post Dated Cheques प्रस्तुत करने होते हैं और Loan Disbursal के

समय बैंक के पक्ष में एक ECS Mandate पर Signature करने की आवश्यकता अनिवार्य रूप से होती है।




आमतौर पाए Personal Loans के लिए Processing Fee क्या है?

मौजूदा समय में आपको Personal Loans को Avail करने 2 से 3% तक कि Processing Fee Pay करनी पड़

सकती है, हालांकि ये Floating अनुमान है जो कि Bank दर Bank Change हो सकता है.




Conclusion


Personal Loans के लिए Apply करने से पहले आपको वही Loan Amount निर्धारित करना चाहिए जिसे

आप भविष्य में Repayment करने में सक्षम हो। अपनी Loan Amount Eligibility की गणना करने के लिए

आप Personal Loan EMI Calculator या Loan Eligibility Calculator का उपयोग करें।

आपकी Eligibility से अधिक Loan Amount के लिए Request करने से Loan Application की

Rejection की संभावना बढ़ सकती है। Banks संभावित Borrowers की आय का अनुमान लगाने के लिए,

संभावित Lenders के आय अनुपात के लिए निर्धारित खर्च के अनुपात की Calculation भी करते हैं। अगर

आप का Repayment Ratio कम है,तो Loan Application की Rejection होने की संभावना अधिक है।