करवा चौथ क्या है और इसे कैसे मनाये

करवा चौथ क्या है और इसे कैसे मनाये

भारत त्योहारों का देश कहा जाता है यहाँ पर बहुत से त्यौहार मनाये जाते है | सभी त्यौहार अपने लिए एक ख़ास महत्व रखते है | इन सभी में से महिलाओ के लिए एक खास त्यौहार है - करवा चौथ | इस त्यौहार को भारतीय महिलाये खासतौर से मनाती  है |  करवा चौथ के दिन ही महिलाये अपने पति के लिए व्रत रखती है |



करवा चौथ कब है ?
करवा चौथ  कार्तिक मॉस के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है | इस दिन सुहागिन महिलाये अपने पति के लिए खास तौर पर व्रत या उपवास रखती है | अपने पति के लिए लम्बी उम्र की कामना करती है | अबकी बार  करवा चौथ 27 October 2018 को मनाया जायेगा |

करवा चौथ कैसे और कहा मनाया जाता है ?

करवाचौथ को पुरे भारत में मनाया जाता है लेकिन कुछ राज्यों में खासतौर पर अधिक उल्लास के साथ मनाया जाता है | इनमे पंजाब , हरियाणा , उत्तर प्रदेश और उत्तर भारत में इसका सर्वाधिक महत्व के साथ log मानते है |

करवा चौथ के दिन महिलाये पुरे दिन व्रत रखती है और रात के होने पर कथा - पूजन होने के बाद चाँद को चलनी में देखकर अपना व्रत तोडती है| इसके पहले वो अपने पति को साथ में लेकर चाँद के साथ अपने प्यार का दीदार करती है | फिर इसके बाद वो अपने पति के हाथो से अपना व्रत खोलती है |


  • करवा चौथ को सूर्योदय से 4 बजे के पहले शुरू किया जाता है और चाँद को देखने के बाद ख़त्म की जाती है |
  • इसी दिन शंकर भगवान् की , पार्वती माता की , और गणेश जी की पूजा की जाती है और इनके कथा को सुना जाता है |
  • विवाह के बाद ही आप करवा चौथ को मन सकती है | 12 से 16 साल तक इसे लगातार व्रत रखना होता है लेकिन आपकी इच्छा के अनुरूप इसे पुरे जीवन भर के लिए भी रख सकती है |
  • करवा चौथ सामान्यतः पतियों के लम्बी उम्र के लिए मनाया जाता है |

You may like these posts