करवा चौथ क्या है और इसे कैसे मनाये

भारत त्योहारों का देश कहा जाता है यहाँ पर बहुत से त्यौहार मनाये जाते है | सभी त्यौहार अपने लिए एक ख़ास महत्व रखते है | इन सभी में से महिलाओ के लिए एक खास त्यौहार है - करवा चौथ | इस त्यौहार को भारतीय महिलाये खासतौर से मनाती  है |  करवा चौथ के दिन ही महिलाये अपने पति के लिए व्रत रखती है |



करवा चौथ कब है ?
करवा चौथ  कार्तिक मॉस के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है | इस दिन सुहागिन महिलाये अपने पति के लिए खास तौर पर व्रत या उपवास रखती है | अपने पति के लिए लम्बी उम्र की कामना करती है | अबकी बार  करवा चौथ 27 October 2018 को मनाया जायेगा |

करवा चौथ कैसे और कहा मनाया जाता है ?

करवाचौथ को पुरे भारत में मनाया जाता है लेकिन कुछ राज्यों में खासतौर पर अधिक उल्लास के साथ मनाया जाता है | इनमे पंजाब , हरियाणा , उत्तर प्रदेश और उत्तर भारत में इसका सर्वाधिक महत्व के साथ log मानते है |

करवा चौथ के दिन महिलाये पुरे दिन व्रत रखती है और रात के होने पर कथा - पूजन होने के बाद चाँद को चलनी में देखकर अपना व्रत तोडती है| इसके पहले वो अपने पति को साथ में लेकर चाँद के साथ अपने प्यार का दीदार करती है | फिर इसके बाद वो अपने पति के हाथो से अपना व्रत खोलती है |


  • करवा चौथ को सूर्योदय से 4 बजे के पहले शुरू किया जाता है और चाँद को देखने के बाद ख़त्म की जाती है |
  • इसी दिन शंकर भगवान् की , पार्वती माता की , और गणेश जी की पूजा की जाती है और इनके कथा को सुना जाता है |
  • विवाह के बाद ही आप करवा चौथ को मन सकती है | 12 से 16 साल तक इसे लगातार व्रत रखना होता है लेकिन आपकी इच्छा के अनुरूप इसे पुरे जीवन भर के लिए भी रख सकती है |
  • करवा चौथ सामान्यतः पतियों के लम्बी उम्र के लिए मनाया जाता है |

0 Comments